Saturday, August 19, 2017
अभी अभी

हमारे बारे में

”लगातार सक्रिय अनुभवों का निचोड़ है ‘खबर गली’ । हालांकि वेब दुनिया में हमारी यह एक शुरुआत है। नया पथ है। संसाधन बेहद कम है और उम्मीदें बहुत अधिक। किन्तु कहते हैं न कि अच्छे मार्ग पर बढ़ने के लिए बस निकल पड़ना होता है। लोग खुद-ब-खुद जुड़ते जाते हैं। हम निकल पड़े हैं, हमें आपके हमकदम होने की आवश्यकता है. ‘खबर गली’ को कैसे पक्की तथा सुन्दरतम बना सकें, इसकी राय भी चाहिए। हम अपनी और से पूरी कोशिश करते रहेंगे कि ‘खबर गली’ के माध्यम से ख़बरों-घटनाओं तथा विचारों पर हमारी तीक्ष्ण और रचनात्मक दृष्टि हो। ताकि सही और सधी हुई सामग्री आप तक पहुंचे।

11 comments

  1. Faizan Ansari

    मैं आपके न्यूज पोर्टल के साथ काम चरना चाहुंगा… मेरा पूरा प्रयास रहेगा कि आपको उत्क्रष्ठ लेख व ताजा खबरें दे सकूं

  2. बहुत सुन्दर प्रयास. जारी रखिए.

  3. वाकई में सुंदर प्रयास है। फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल साईट पर खबर गली का अकाउंट खुले तो आम लोगो तक इसका प्रचार हो पाएगा।

  4. shailendra gupta shaily

    खवरों मैं बेखोफता बनाए रखना प्राथमिकता होनी चाहिए ।पोर्टल ओपेन करने के लिए बधाई
    शैलेंद्र गुप्ता शैली
    पत्रकार ,फ़िरोज़ाबाद

  5. न्यूज पोर्टल खबर गली आकर्षक, बहुपयोगी, जानकारी का भंडार है। हिंदी में होने के कारण इसकी पहुँच अधिकाधिक होगी। मेरी शुभकामनायें।

  6. Sudhir Mahajan

    Going on correct track…….Best Wishes !

  7. ashiq ali sayed

    khabargalli news portal wakai me ek accha aur safal prayas hai

  8. अभिमन्यु शितोले

    अमिताभ बहुत-बहुत धन्यवाद, हिंदी के पाठको को मुफ्त में इतनी अच्छी विविधता भरी और नई तथा रोचक समग्री से सजी धजी वेबसाइट उपलब्ध कराने और अजय भट्टाचार्य जैसे सुलझे हुए लेखक को इससे जोड़ने के लिए। मुझसे पहले जितने भी कॉमेंट आए हैं उन्हें पढ़ने के बाद मैं यह नहीं समझ पा रहा हूं कि लोग इसे ” प्रयास” क्यों कह रहे हैं। मुझे तो यह एक सुनियोजित, पूरी तरह से प्रफेशनल और संपूर्ण समचार बुलेटिन लगी। कुछ खबरे मैंने अभी पढ़ी है लेकिन झूठ नहीं बोलूंगा खबरों में बड़ा सतहीपर है। सुझाव समझे या एक पाठक का आदेश खबरों में ” खबरगल्ली ” का अपना टेक जरूर होना चाहिए। हो सकता है लोगों की कमी के कारण एेसा न हो पा रहा हो… पर इस दिशा में सोचना जरूर…। आलेख के मामले में लाजवाब है। दो टूक अच्छा हन पड़ा है। अजय जी का पत्रकार वाला लेख भीड़ से हटकर है। बधाई हो…. सफल हो…. यही कामना है।

    • यह हमारे लिये निस्संदेह प्रसन्नता की बात है कि अभिमन्यु ने पोर्टल को देखा और अपनी प्रतिक्रिया दी / हाँ , साधनो की कमी है , जो समाचार है उसमे हम खबरगली का टैग नही दे पा रहे है इस्के पीछे जो कारण आपने बताया वही है ..इस दिशा मे हम जरूर सोचेंगे और अब यह अपने एक साल भी पूर्ण करने वाली है, अगले साल मे और अधिक बेहतर करने का प्रयत्न होगा. हमे चाहिये बस यही कि आप जैसे समय समय पर इसका अवलोकन करते रहे और दिशा निर्देश देते रहे .यही हमारे कार्यो का प्रसाद है . धनयवाद पुनः आपको .

  9. मैं परमात्मा राम त्रिपाठी गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) का मूल निवासी हूँ एवं हिंदी दैनिक “आज” समाचार पत्र में क्राइम रिपोर्टर हूँ। खबर गली पोर्टल को देखकर मुझे अति प्रसन्नता हुई और मैं भी इस पोर्टल से जुड़ने का इच्छुक हूँ। यदि मौका मिला तो अपराध की ख़बरों को मैं निरन्तर भेजता रहूंगा। मोबा. 9935643005

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*