Saturday, August 19, 2017
अभी अभी

Tag Archives: किताबें

हरियाणवी माटी की महक है ‘लोकगीतों का बुगचा’

त दिल्ली पुस्तक मेले की है। ढेरों ढेर पुस्तकों के बीच यह खोजना कि क्या पढ़ा जाए क्या नहीं लगभग कठिन होता है। किंतु स्टॉल-दर-स्टॉल जा रहा था कि अचानक मेरी निगाह” लोकगीतों का बुगचा” नामक किताब पर पड़ी और मैं ठिठका। मेरे हाथ खुद-व-खुद आगे बढ़ गए, क्योंकि लोकगीतों की किताबों में माटी की महक होती है। उत्सुकता से ... Read More »